SIM Ka Full Form : सिम कार्ड की पूरी जानकारी

इस आर्टिकल में जानेंगे कि SIM ka full form (सिम का फुल फॉर्म) क्या होता है ? आप प्रतिदन सिम कार्ड का नाम सुनते होंगे। जैसे idea, airtel, jio, vodafone, bsnl सिम। हम अपनी बोलचाल की भाषा में अनगिनत बार सिम शब्द का प्रयोग किये होंगे।

लेकिन क्या आपको पता है कि sim एक शार्ट नाम है ? यानि सिम का फुल फॉर्म कुछ और होता है।

अगर आप सिम कार्ड के बारे में पूरी जानकारी चाहते है तो इस पोस्ट को अंतिम तक जरूर पढ़िए। इसमें हम सिम कार्ड के आविष्कार से लेकर विस्तार तक पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। साथ ही भविष्य में सिम कार्ड का स्थान लेने वाले eSIM के बारे में भी विस्तार से बताएँगे। तो चलिए शुरू करते है।

sim-ka-full-form-sim-ki-puri-jankari

SIM Card Ki Puri Jankari – सिम कार्ड के बारे में पूरी जानकारी

इस आर्टिकल में सिम कार्ड की ये सभी जानकारी दिया गया है –

  • sim का फुल फॉर्म
  • सिम को हिंदी में क्या कहते है
  • सिम और eSIM क्या है
  • प्रीपेड और पोस्टपेड सिम क्या होते है
  • सिम कार्ड किसने बनाया ?

इन सभी टॉपिक की डिटेल में जानकारी पाने के लिए इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें –

1. SIM ka full form – सिम का फुल फॉर्म क्या होता है ?

आपके पास मोबाइल है तो उसमे एक या अधिक सिम कार्ड जरूर लगा होगा। क्या आपको पता है कि सिम का फुल फॉर्म क्या होता है ? अगर नहीं तो चलिए हम आपको बताते है –

  • S – Subscriber
  • I – Identity
  • M – Module

यानि सिम का फुल फॉर्म – Subscriber Identity Module होता है। तो अब आपसे कोई सिम का फुल फॉर्म क्या होता है पूछे तो फ़ौरन बता पाएंगे।

2. SIM ka Pura Naam – सिम का पूरा नाम हिंदी में ?

SIM का फुल फॉर्म Subscriber Identity Module होता है ये आप जान गए है। लेकिन क्या आप इसका पूरा नाम यानि सिम को हिंदी में क्या कहते है ये जानते है ? अगर नहीं तो चलिए इसे भी जान लेते है –

सिम को हिंदी में – उपभोक्ता पहचान इकाई पत्ता कहा जाता है। ये सवाल अकसर प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते है। इसलिए इसे कही नोट करके जरूर रखें।

अगर भूल जाये तो गूगल पर myandroidcity सर्च करके इस साइट पर आ सकते है। सिम कार्ड की ये जानकारी हमेशा इस वेबसाइट पर सुरक्षित रहेगा।

3. SIM Kya Hai – सिम कार्ड क्या है ?

Subscriber Identity Module (SIM) एक छोटी सी पीतल की चिप होती है जो सिम कार्ड का उपयोग करने वाले ग्राहक की पहचान करने के साथ-साथ नेटवर्क पर मोबाइल फोन के माध्यम से बात करने के काम आता है।

इसके साथ ही सिम कार्ड प्रमाणीकरण के लिए आवश्यक जानकारी स्टोर करते हैं और उपयोगकर्ता के फोन को नेटवर्क से कनेक्ट करने की अनुमति देते हैं। सभी सिम कार्ड में कुछ मेमोरी भी होती है, जिससे नाम और मोबाइल नंबर स्टोर किया जा सकता है।

संक्षिप्त में आप समझ गए होंगे कि सिम क्या है ? आज टेक्नोलॉजी के बढ़ते दौर में eSIM card का दौर आने वाला है। ऐसे में आपको ई-सिम के बारे में भी जानकारी होना चाहिए। चलिए इसके बारे में भी आपको बताते है।

4. eSIM Kya Hai – ई-सिम क्या होता है ?

eSIM यानि Embedded Subscriber Identity Module मोबाइल में लगने वाला वर्चुअल सिम होता है। यह फ़ोन के अंदर ही एक पतली चिप होती है। सामान्य सिम कार्ड की तरह इसे अलग से खरीदा नहीं जा सकता।

eSIM card मोबाइल में पहले से ही इन्सटाल्ड होती है जिससे इसे आप बाहर नहीं निकाल सकते और ना ही किसी अन्य मोबाइल में यूज़ कर सकेंगे।

ई-सिम को टेलीकॉम कंपनियां एक्टिव करती है जिससे ऑपरेटर बदलने यानि एयरटेल से जिओ या जिओ से एयरटेल में जाने पर आपको सिम बदलना नहीं पड़ेगा।

भारत में अभी eSIM card का चलन बहुत कम है क्योंकि eSIM बहुत मंहगे फ़ोन में ही उपलब्ध हो पाया है। जैसे Apple की iPhone XS और iPhone XS Max में ई-सिम सपोर्ट दिया गया है।

5. Prepaid SIM Kya Hota Hai – प्रीपेड सिम क्या है ?

प्रीपेड शब्द से यह समझ आ रहा है कि पहले पैसा। कॉलिंग, मैसेज और इंटरनेट डाटा सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए आपको पहले पैसा यानि पहले रिचार्ज करवाना पड़ेगा।

अगर आप ज्यादा कॉल, sms और इंटरनेट डाटा इस्तेमाल नहीं करते तो आपको प्रीपेड सिम कार्ड ही लेना चाहिए। वैसे भी प्रीपेड सिम को आम लोगो के जरूरतों को ध्यान में रखकर ही बनाया गया है। भारत में आज ज्यादातर प्रीपेड सिम कार्ड ही यूज़ किया जाता है।

Prepaid सिम क्या होता है ये आप जान गए है। चलिए अब जानते है कि postpaid sim card क्या होता है ?

6. Postpaid SIM Kya Hai – पोस्टपेड सिम क्या होता है ?

पोस्टपेड, प्रीपेड का जस्ट उल्टा है यानि बाद में पैसा। आप पहले कालिंग, sms और इंटरनेट सर्विस का जितना चाहे उतना इस्तेमाल कर सकते है। इसके बाद महीने के अंत में आपको बिल पटाना पड़ता है। ठीक उसी तरह जैसे आप बिजली, पानी का बिल pay करते है।

पोस्टपेड सिम कार्ड को बिजनेस मैन पर्सन के जरूरतों को ध्यान में रखकर बनाया गया है। क्योंकि उन्हें कॉल, मैसेज और इंटरनेट डाटा की ज्यादा जरुरत पड़ती है।

Postpaid सिम कार्ड क्या होता है आप समझ गए होंगे। आप कौन सा सिम कार्ड यूज़ करते है, प्रीपेड या पोस्टपेड ? नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

7. SIM Card Kisne Banaya – सिम का आविष्कार किसने किया था ?

बात सिम कार्ड की हो रही है तब सिम का आविष्कार कब और किसने किया था ये सवाल भी महत्वपूर्ण हो जाता है। चलिए इसके बारे में भी जान लेते है।

सिम का आविष्कार सन 1991 में एक जर्मन कंपनी जिसेक एंड डेविएंट (Giesecke & Devrient) ने किया था। जर्मनी के म्यूनिख (Munich) में स्थित Giesecke & Devrient कंपनी को स्मार्ट कार्ड बनाने में महारत हासिल है।

8. Interesting Facts About SIM – सिम के बारे में रोचक तथ्य

» 1991 में जब सिम का आविष्कार हुआ तब केवल 300 सिम कार्ड ही बनाए गए थे।

» पहले सिम कार्ड, क्रेडिट कार्ड के आकार का हुआ करता था।

» नैनो सिम कार्ड 2012 में पहली बार पेश किया गया।

» सर्वप्रथम पहला GSM कॉल 1991 को की गई थी।

» eSIM (Embedded Subscriber Identity Module) 2013 में लांच किया गया।

निष्कर्ष (Conclusion)

SIM ka full form और सिम कार्ड की पूरी जानकारी हिंदी में आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं। आप कौन सा सिम कार्ड यूज़ करते है सामान्य सिम या eSIM ? क्या फ्यूचर में आप eSIM कार्ड इस्तेमाल करना चाहेंगे ? अपना विचार नीचे कमेंट बॉक्स में शेयर जरूर करें।

सिम क्या है इसके बारे जानकारी आपको पसंद आये तो नीचे शेयर बटन के द्वारा इस आर्टिकल को शेयर जरूर करें।

इस साइट पर Full Form से Related ऐसे ही उपयोगी जानकारी प्रदान किया जाता है। अगर ये साइट आपको पसंद आये तो गूगल पर myandroidcity सर्च करके भी यहाँ आ सकते हो। Thank You !

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here